ज्योतिरादित्य सिंधिया के ग्वालियर दौरे से पहले हुआ विरोध, कांग्रेस ने कहा- सिंधिया CM पद की लालच में बाहर निकले

ग्वालियर। मध्य प्रदेश के चार दिवसीय दौरे पर पहुंचे राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया बुधवार को भोपाल पहुंच गए हैं. यहां उनका समर्थकों ने जमकर स्वागत किया. वहीं दूसरी तरफ उनके ग्वालियर दौरे से एक दिन पहले ज्योतिरादित्य सिंधिया का विरोध शुरु हो गया है. सिंधिया के महल जय विलास पैलेस पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने पोस्टर चस्पा दिए हैं.
बता दें कि कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने सिंधिया के महल में पोस्टर चस्पा किए. जिसमें लिखा है कि ” कोरोना भागा, जनसेवक रूपी कुंभकरण ज्योतिरादित्य सिंधिया नींद से जागा”. वहीं कांग्रेस ने ज्योतिरादित्य सिंधिया को सत्ता का लालची बताया है.
कांग्रेस ने आरोप लगाते हुए कहा कि मध्य प्रदेश में मुख्यमंत्री पद को लेकर चल रहीं उठापटक के बीच सिंधिया सीएम पद की लालच में बाहर निकले हैं. वे सीएम बदले जाने के लिए चल रहे नाम नरोत्तम मिश्रा, कैलाश विजयवर्गीय से पीछे छूट गए हैं, इसलिए वे भोपाल का दौरा कर रहे हैं.
कांग्रेस प्रवक्ता सिद्धार्थ राजावत ने सिंधिया का पोस्टर लगाया है. साथ ही फूलबाग चौराहे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का पुतला भी जलाया गया. बढ़ती महंगाई के लिए उन्होंने पीएम मोदी को जिम्मेदार बताया है, साथ ही पीएम को अहंकारी बताया है.
गौरतलब है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया बीजेपी कार्यसमिति की घोषणा के ठीक अगले दिन भोपाल पहुंचे हैं. कार्यसमिति में इनके समर्थकों की बल्ले-बल्ले रही है. सूत्रों के अनुसार ज्योतिरादित्य सिंधिया अपने कुछ वफादारों के लिए निगम और मंडल की नियुक्तियों में जगह चाहते हैं.

thehind today
Author: thehind today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *